राजस्थान पर्यटक गाइड

द्वारिकाधीश मंदिर, कांकरोली

User Ratings:

कांकरोली गांव में स्थित नाथद्वारा में स्थित ककरोली का द्वारकाधीश मंदिर पर्यटकों के मुख्य आकर्षणों में से एक है। यह मंदिर 'कंक्रोली मंदिर' के नाम से भी जाना जाता ह। हिंदू देवता श्री कृष्ण इस सुंदर मंदिर के एकमात्र देवता हैं। लाल पत्थर से बनी ये मूर्ति पूरे भक्ति और समर्पण के साथ पूजी जाती है। कई लोगों का मानना हैं कि लाल पत्थर से बनी श्री कृष्ण की यह मूर्ति मथुरा से लाई गई थी। और महाराणा राज सिंह द्वारा 1676 में इस मंदिर का निर्माण किया गया था। यह मंदिर वैष्णव और वल्लभाचार्य संप्रदायों के अंतर्गत आता है।

उदयपुर शहर से 65 किमी की दूरी पर स्थित, द्वारकाधीश मंदिर राजसमंद झील के तट पर स्थित है। इसके पास नवचौकी बांध (कंक्रोली बांध) है और यह जगह पक्षियों को देखने के लिए भी एक शानदार स्थान है।

द्वारकाधीश मंदिर कांकरोली मंदिर का समय :

आरती समय
मंगला  07:00 सुबह
श्रंगार   08:15 पूर्वाह्न
ग्वाल   09:15 पूर्वाह्न
राजभोग 10:30 सुबह
उत्त्यापन 04:00 श्याम
भोग    04:40 अपराह्न
आरती   05:15 अपराह्न
शायन   07:00 शाम

द्वारकाधीश मंदिर, नाथद्वारा

द्वारकाधीश मंदिर, नाथद्वारा राजस्थान तक कैसे पहुंचे

सड़क मार्ग से : द्वारकाधीश मंदिर, उदयपुर से 65 किमी की दूरी पर रसमंद झील के तट पर स्थित है। जहाँ बस या टैक्सी से आसानी पंहुचा जा सकता है |

रेल द्वारा : द्वारकाधिश मंदिर निकटतम ककरोली  रेलवे स्टेशन से पंहुचा जा सकता है जो प्रमुख शहरों जैसे दिल्ली, आगरा, मुंबई, चेन्नई, बीकानेर, जोधपुर, जयपुर, अहमदाबाद के रेलवे स्टेशनों से जुड़ा हुआ है।

हवाई यात्रा द्वारा : द्वारकाधिश मंदिर निकटतम उदयपुर हवाई अड्डे के माध्यम से पहुंचा जा सकता है जो दिल्ली, कोलकाता, मुंबई, अहमदाबाद, जोधपुर और जयपुर से नियमित डोमेस्टिक उड़ानो से जुड़ा हुआ है।

कांकरोली का द्वारिकाधीश मंदिर

कांकरोली का द्वारिकाधीश मंदिर

कांकरोली का द्वारिकाधीश मंदिर

द्वारिकाधीश मंदिर, नाथद्वारा राजस्थान

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *