राजस्थान पर्यटक गाइड

हर्षमाता मंदिर आभानेरी

User Ratings:

हर्षमाता मंदिर राजस्थान के आभानेरी गांव का प्रसिद्ध मंदिर है। यह प्रसिद्ध चाँद बाओरी के विपरीत में स्थित है। यह मंदिर राजा चौहान के द्वारा 8 से 9 ईस्वी के दौरान बनवाया गया था, यह देवी हर्षमाता का एक विशाल मंदिर है जिन्हें खुशी व आनंद की देवी माना जाता है।

हर्षमाता का मंदिर पवित्र वास्तुकला शैली योजना द्वारा निर्मित है जहां स्तंभों पर मंडप बनाया गया है। इसकी बाहरी दीवारों पर ईश्वर की प्रतिमाओं की नक़्क़ाशी है और इस मंदिर के ऊपरी हिस्से पर उत्कृष्ट प्रतिमाएँ बनी है जो इसकी मुख्य विशेषताएँ बताती है।

अब पुरातत्व विभाग द्वारा देवी हर्षमाता की प्रतिमा के संरक्षण हेतु लोहे के बने एक घेरे में प्रतिमा को संरक्षित किया गया है। हर्षमाता मंदिर के ठीक सामने भगवान हनुमान का मंदिर स्थित है। और उसके दाहिने हाथ के निचले हिस्से पर शिव मंदिर स्थित है। आज भी स्तम्भों के आस पास टूटी हुई चट्टाने मौजूद है।

आभानेरी का हर्षमाता मंदिर

आभानेरी में स्थित हर्षमाता मंदिर कैसे पहुचें

सड़क मार्ग से : हर्षमाता मंदिर जयपुर से 95 किलोमीटर की दूरी पर आभानेरी नामक गाँव में स्थित है। जहाँ आसानी से स्थानीय तौर पर किराय पर चलने वाली मोटर गाड़ी से या सड़क मार्ग, निजी बसों व टैक्सी के माध्यम से पहुँच सकते है।

रेल मार्ग से : आभानेरी का हर्षमाता मंदिर, जयपुर रेलवे स्टेशन से मुख्य शहरों के रेलवे स्टेशन जैसे दिल्ली, आगरा, मुंबई, चेन्नई, बीकानेर, जोधपुर, उदयपुर और अहमदाबाद जुदा हुआ है जहाँ आसानी से  पहुँचा जा सकता है।

हवाई यात्रा द्वारा :  हर्षमाता मंदिर पहुँचने के लिए निकटतम जयपुर हवाई अड्डा है इसे संगानेर हवाई अड्डे के नाम से भी जाना जाता है। यह हवाई अड्डा नियमित डोमेस्टिक उड़ाने जो दिल्ली, कोलकाता, मुंबई, अहमदाबाद, जोधपुर और उदयपुर जैसे हवाई अड्डों के माध्यम से भी हर्षमाता मंदिर पहुँचा जा सकता है।

हर्षमाता मंदिर

हर्षमाता मंदिर

हर्षमाता मंदिर, आभानेरी राजस्थान

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *