राजस्थान पर्यटक गाइड

गज महोत्सव

User Ratings:

गज महोत्सव राजस्थान के जयपुर शहर में मनाया जाने वाला एक लोकप्रिय त्यौहार है। यह होली के दिन, आमतौर पर मार्च  के महीने में मनाया जाता है। इस महोत्सव में  पोलो और हाथियों का नृत्य  पेश किया जाता है जो बच्चों को अपनी ओर आकर्षित करता है। इस महोत्सव की शुरूआत एक सुंदर जलूस में सजे हुए हाथियों, ऊंट, घोड़ों और लोक नर्तकियों से होती है।
जानवरों के मालिक या महावत हाथियों को चमकिले रंगों से सजाते है। झूल, जो शीशे और सुंदर कढ़ाई किया हुआ  गद्दी का कपड़ा है जो हाथियों द्वारा पहना जाता है। और भारी आभूषणों से सजाया जाता है। गजिनी के चलते समय उसके पैरों की हिलती हुई झाँझर देखने में आनंद आता है।

इस महोत्सव में हाथियों पर सबसे ऊपर की ओर बैठे लोग गुलाल उड़ाते है। सबसे सुंदर सजे हाथी को पुरस्कार दिया जाता है। पोलो, हाथियों की दौड़, हाथियों के बीच टग-ऑफ- वार और 19 पुरुष और महिलाओं को महोत्सव में शामिल किया गया है। यह महोत्सव राजस्थान पर्यटन द्वारा आयोजित किया जाता है, गज महोत्सव राजस्थान का एक अनूठा महोत्सव है। यह महोत्सव मार्च और अप्रैल के बीच होली के समय महान उत्साह के साथ मनाया जाता है, त्यौहार मनोरंजक कारकों से भरा है। हाथियों को  एक शाही जीव माना जाता है उसे सुंदर ढ़ंग से सजाया जाता है क्योंकि वे महोत्सव में आकर्षण का केन्द्र होते है। हाथियों की दौड़, हाथियों की परेड, पोलो खेल जैसे अद्भुत  कार्यक्रमों को यात्री देख सकते है। गजिनी भी इस सुंदर झाँकियों  में भाग लेती है। सबसे सुंदर गजिनी को इनाम भी  दिया जाता है। लोग हाथियों को सजाकर और उन्हें रंग लगाकर अद्भुत तरह से होली खेलते है।

गज महोत्सव में भाग लेना एक जीवनकाल अनुभव है। जयपुर सभी यातायातों से भलि-भांति जुड़ा हुआ है। गज महोत्सव चौगन स्टेडियम जयपुर के प्राचीन शहर के दाहिनी और मध्य में त्रिपोलिया गेट या सिटी पैलेस की तरफ है। इसका प्रवेश नि: शुल्क है और समय आमतौर पर  शाम 4 से 7 तक का  होता है।

Elephant-Festival

Elephant-Festival

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *